Nightfall: स्वप्नदोष को कैसे रोकें इसके घरेलु उपाय

जब कभी बात स्वप्नदोष या कहें Nightfall की आती है। तब कहीं न कहीं लोग इस पर बात करने से कतराते हैं। आज भी हमारे देश भारत मे सेक्स संबंधित किसी भी तरह की समस्या या इसके उपाय पर बात करना लोग गलत मानते हैं। जिसके कारण नाइट फॉल से जूझ रहे युवा या पुरुष वर्ग को आज भी इसकी सही से जानकारी नहीं मिल पाती।

स्वप्नदोष (Nightfall) क्या है?

आगे बढ़ने से पहले आपको बता दूं, Nightfall युवास्था या कहें किशोरावस्था में एक सामान्य समस्या है। जिसे कुछ पुरुष अपने युवावस्था से अपने वयस्कता तक अनुभव कर सकते हैं। Nighfall की समस्या तब शुरू होती है। जब सोते समय आपका शरीर ऑर्गेज़्म का अनुभव करता है।

जरूरी नहीं कि नींद में आपको यौन या संभोग से जुड़े सपने आये, तभी आपका Nightfall हो। अर्थात स्वप्नदोष को आप कैसे रोक सकते हो। आसान भाषा में अगर बात की जाए तब Nightfall रात में सोते समय होता है। जिसके बाद वीर्य अपने आप शरीर से बाहर निकल आता है।

अगर ऐसी परिस्तिथि महीने में एक या दो बार हो तब ये कुछ ख़ास परेशानी पैदा नहीं करती। समस्या तो तब होती है जब Nightfall रोजाना होने लगे। ऐसे में शरीर पर इसका गलत प्रभाव पड़ता है, फिर कुछ समय बाद कमजोरी का भी अहसास होने लगता है।

स्वप्नदोष के कारण

आगे बढ़ने से पहले हमारे लिए ये जान लेना भी काफी जरुरी है की आखिर Nightfall के शुरुआत होने का आखिर कारन क्या है? और इसकी शुरुआत आखिर होती कैसे है। वैसे तो समय के साथ ये समस्या खुद ही खत्म हो जाती है। लेकिन अगर लम्बे समय तक ये ठीक न हो तब ये एक चिता का विषय बन सकता है।

  • चूँकि युवावस्था के दौरान शुक्राणु लगातार बनने लगते हैं। समय के साथ ये शुक्राणु अंडकोष में जमा होने लगते हैं। अगर आप सेक्सुअली एक्टिव नहीं हैं और हस्तमैथुन भी नहीं करते। तब कुछ समय अंतराल में स्वप्नदोष के रूप में खुद ही बाहर आने लगता है।
  • सोने के दौरान बिस्तर या फिर कपड़ों से जननांगो के बिच होने वाले घर्षण से उत्तेजना होती है। जिसके परिणामस्वरूप स्वप्नदोष की होने लगती है।
  • जननांगो जब कमजोड़ होती है तब सम्भोग के वक़्त वीर्य पूरी तरह से बाहर नहीं आ पाटा। ऐसी परिस्तिथि में भी Nightfall होने की संभावना बढ़ जाती है।
  • बगैर पेशाब किये सोने की लत भी स्वप्नदोष का कारण बनती है। इसलिए सोने से पहले मूत्राशय को खाली जरूर कर लें।
  • अकसर तनाव से घिरा होना और चिंतित रहना।
  • टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढ़ाने के लिए अतिरिक्त खुराक लेना।
  • फिजिकल एक्टिविटी जैसे योग या व्यायाम से दुरी बनाना।
  • मोटापा।

Nightfall को कैसे रोकें

अगर आप भी Nightfall की समस्या या परिस्तिथि से गुज़र रहे हो। तब नीचे कुछ बेहतर तरीके सुझाये गए हैं। जिसे पढ़कर और जानकर, आप कुछ हद तक इस मसले में अपने आप को शिक्षित कर सकते हो।

अपनी आदतों में बदलाव लाएं

अपनक छोटी-छोटी आदतों में बदलाव लाकर स्वप्नदोष की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए आप नीचे दिए गए विधि को एक बार जरूर अपनाएं।

इलाज की जरूरत नहीं पड़ती

ज़्यादातर मामलों में किशोरों और पुरुषों को इलाज की जरूरत नहीं पड़ती। वैसे किशोर जो सेक्सुअली एक्टिव नहीं होते और हस्तमैथुन भी नही करते। उनमे ये समस्या आम है। लेकिन फिर भी अगर आप इसके प्रति ज़्यादा परेशान हैं, तब आपको डॉक्टर से सलाह लेने की आवश्यकता है।

पीठ के बल लेटें

अगर आपको पेट के बल सोने अथवा लेटने की आदत है, तब इसे आज ही सुधार लें। क्योंकि पेट के बल सोने पर इस बात की संभावना अधिक होगी कि आपको रात में अजीबो-गरीब सपने आएंगे। इसलिए जितना हो सके पीठ के बल ही सोने की कोशिश करें। इसके अलावा अगर खुद को सुबह पेट के बल सोते हुए पाते हो, तब भी परेशान होने की जरूरत नहीं है। हमारा शरीर नींद में अक्सर उसी अवस्था में होता है, जिसमे उसे अधिक आराम मिले।

मिलता जुलता लेख: मुफ्त में अपना BMI निकालें

हस्तमैथुन करें

ये सुनने में थोड़ा अजीब लग रहा हो, लेकिन ये बात 100 फीसदी सच है कि हस्तमैथुन करने से आपके शरीर में मौजूद पुराने वीर्य बाहर आएंगे। जिससे कुछ हद तक आपको Nightfall से राहत मिल सकती है।

  • हस्तमैथुन एक सामान्य प्रक्रिया है, इसे करने के दौरान शर्मिंदगी महसूस न करें।
  • सोने से पहले हस्तमैथुन करें, जिससे नींद में आपको Nighfall ना आये।

अश्लील फिल्में देखने से बचें

कुछ लोगों को अश्लील फिल्में देखने और कहानियां पढ़ने का तलब होता है। बार-बार अश्लील फिल्में और कहानियों को पढ़ने से आपका मन हमेशा कामुकता की ओर अग्रसर होगा और यही सारी चीज़ें हमारी दिमाग में चलती रहेगी। जिससे रात में सोते समय Nightfall होने की संभावना काफी बढ़ जाएगी।

सोने से पहले तनाव दूर करें

Nightfall से तनाव का भी जुड़ाव होता है। इसलिए बिस्तर पर जाने से पहले अपने तनाव को दूर करें। वैसे ये जरूरी नही है कि ऐसा सब के साथ हो। अगर सोने से पहले किसी तरह आप अपने तनाव को कम करते हो, तब आपके स्वप्नदोष की संभावना कम हो जाती है। इसलिए सोने से पहले कम से कम 1 घंटे तक अपने दिमाग को शान्त रखने की कोशिश करें। इसके लिए आप नीचे दिए गए कुछ तरीकों को फॉलो कर सकते हो।

  • किताब पढ़े।
  • गाने सुने।
  • योग के आसन करें।
  • 10 से 15 मिनट का ध्यान लगाएं अर्थात Meditation करें।
  • अपने विचारों और दिनचर्या को पर्सनल डायरी में नोट करने की आदत डालें।

सूखा तौलिया साथ मे रखे

अगर आप Nightfall से ज़्यादा परेशान हैं, तब आपको सोते समय साथ मे एक सूखा तौलिया जरूर रखें। क्योंकि रात में कब आपका Nightfall हो जाये इसका अंदाज़ा तो आपको भी नहीं। ऐसे में साफ-सफाई का ध्यान रखना भी काफी जरुरी हो जाता है।

दही का सेवन करें

प्रतिदिन से 2 से 3 कप दही का सेवन करना भी स्वप्नदोष से ग्रसित लोगों के लिए फायदेमंद होता है।

अपने खानपान में बदलाव करें

खानपान में किये गए थोड़े से बदलाव भी आपके स्वप्नदोष को रोकने में आपकी काफी हद तक मदद कर सकता है। अपने आहार में वैसे चीजों को शामिल करें जो पचने में आसान हो। इसके अलावा अपने आहार से मछली, अंडा और मीट जैसी बाकी चीजों को दूर रखें, जिसे पचा पाना हमारे शरीर के लिये थोड़ा मुश्किल होता है।

मिलता जुलता लेख: Piles के लक्षण

सोते समय इन बातों का ख्याल रखें

  • वैसे कपड़े पहने जिसमे आपको आरामदायक महसूस हो साथ ही ये ढीले हो तो और भी अच्छा!
  • सीमित संख्या में ही हस्तमैथुन करें, हद से ज़्यादा हस्तमैथुन करने से बचें।
  • पेट के बल सोने से बचें।
  • सोने से कम से कम 2 घंटे पहले ही खाना खा लें।
  • रात में हल्का भोजन करें।
  • सोने से पहले सुष्म गर्म पानी से स्नान करें।

Disclaimer: यहां दी गयी जानकारी चिकित्षक परामर्श नहीं है, इन्हे इस्तेमाल करने से पहले चिकित्षक से सलाह जरूर लें। इस लेख का एकमात्र उद्देश्य है आपको शिक्षित करना। अधिक जानकारी और इलाज के लिए अपने डॉक्टर अथवा चिकित्षक से संपर्क अवश्य करें।

-wikiHindi

अंतिम शब्द

इस लेख के माध्यम से आपने जाना की Nightfall को कैसे रोक सकते हो। इसके अलावा आपने ये भी जाना की स्वप्नदोष के संभावित कारण कौन-कौन से हैं। लेख से सम्बंधित किसी प्रकार की कोई शिकायत सुझाव या सवाल आपके मन में हो तब कमेंट करके हमें जरूर बतलायें, धन्यवाद्।

FAQs

Q: नाईट फॉल के नुकसान

उत्तर: इससे कमजोड़ी का अहसास होता है।

Q: स्वप्नदोष कितनी बार होना चाहिए

उत्तर: सप्ताह में दो से तीन बार होने पर समस्या नहीं होती। इससे अधिक होने पर आपको डॉक्टर से मिलने की।

Leave a Comment