असम के कूल जिले, राजकीय पशु, पक्षी, फूल पेड़ और रोचक जानकारियां

4.5
(70)

Last Updated on September 15, 2021 by WikiHindi

असम देश का एक ऐसा उत्तर-पूर्वी राज्य है जो अपने चाय और रेशम के लिए विश्विख्यात है। आप विश्व के किसी भी कोने में क्यों न रहते हो आपको असम की चाय वहाँ देखने को जरूर मिलेगी। इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे की असम में कुल कितने जिले, और प्रमंडल हैं और साथ ही आप इनके क्षेत्रफल को भी जानेंगे और अंत में इस राज्य से जुड़ी कुछ रोचक तथ्यों को भी पढ़ेंगे।

असम के कूल जिले, राजकीय पशु, पक्षी, फूल पेड़ और रोचक जानकारियां
कामाख्या मंदिर

असम बॉर्डर से सटे राज्य और देश

दिशाराज्य / देश
पूर्व (East)नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम
पश्चिम (West)पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश।
उत्तर (North)अरुणाचल प्रदेश और भूटान।
दक्षिण (South)मेघालय और त्रिपुरा

असम एक नज़र में

क्षेत्रफल (Area)78,438 km2
प्रमंडल (Division)5
जिला (District)34
अनुमंडल (Sub Division)
अंचल (Circle)
लोकसभा सीटें (No. of Seats in Parliament | Lower House)14
राज्यसभा सीटें (No. of Seats in Upper House)07
विधानसभा सीटें (No. of Seats in State Assembly)126
राजकीय पशुएक सिंघ वाला गेंडा
राजकीय पक्षीWhite-winged wood duck
राजकीय फूलFoxtail Orchids
राजकीय पेड़होलोंग

असम की राजधानी, उप-राजधानी और वित्तीय राजधानी

जिलाक्षेत्रफल
राजधानी दिसपुर
उप-राजधानी
वित्तीय राजधानी

असम के कूल डिवीज़न

के जिलों को कुल डिवीज़न में बांटा गया है और वह कुछ इस प्रकार हैं।

डिवीज़नजिला
बरक वैलीकाचर, दिमा हसाव, हैलाकांडी, कर्बी आंगलोंग, करीमगंज
हिल्स एंड सेंट्रल असम दिमा-हासव, होजाइ, ईस्ट-कारबी-आंगलोंग, वेस्ट-कारबी-आंगलोंग और नागांव
लोअर असमबक्सा, बारपेटा, बोंगईगांव, चिरांग, धुबरी, गोलपारा, नलबारी, कामरूप-मेट्रोपोलिटन, कोकराझार, साउथ-सलमारा-मांकचर, तमलपुर
नार्थ असमदर्रांग, सोनितपुर, उदलगुड़ी, बिस्वनाथ
अपर असमचराइदेव, धेमाजी, डिब्रूगढ़, गोलाघाट, जोरहट, लखीमपुर, मजौली, सिवसागर और तिनसुकिया

असम के कूल जिले

असम में वर्तमान में कूल 34 जिले हैं तथा इन जिलों की क्षेत्रफल कुछ इस प्रकार हैं।

जिलाक्षेत्रफल
बक्सा2457
बजाली
बारपेटा
बिश्वनाथ1100
बोंगईगांव1093
काचर3786
चराइदेव1069
चिरांग1170
दर्रांग1585
धेमाजी3237
धुबरी1608
डिब्रूगढ़3381
दिमा हासव4890
गोलपारा1824
गोलाघाट3502
हैलाकांडी1327
होजाइ1686
जोरहाट2851
कामरूप मेट्रोपोलिटन1528
कामरूप3105
कर्बी आंगलोंग7366
करीमगंज1809
कोकराझार3169
लखीमपुर2277
मजौली880
मोरीगांव1704
नागांव2287
नलबारी2257
सिवसागर2668
सोनितपुर2076
साउथ सलमारा मनकाचर568
तिनसुकिया3790
उदालगुरी1852
वेस्ट कर्बी आंगलोंग3035

असम से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां

  • असम आज एक मात्र ऐसा राज्य है जहां सालाना जोनबील मेले का आयोजन किया जाता है। इस मेले की खास बात यह है कि इसमे खरीदारी के लिए पैसों की जरूरत नहीं पड़ती बल्कि सामानों का आदान-प्रदान किया जाता है। इस प्रक्रिया को वास्तु-विनियम के नाम से जाना जाता है।
  • यहां की सुअलकुची नामक गांव में आपको चारों तरफ केवल बुनकर ही बुनकर नज़र आएंगे। यहीं कारण है कि इस गांव को पुरी दुनिया मे सबसे बड़ी बुनकरों के गांव का दर्जा प्राप्त है।
  • असम के सुनहरे रंग का रेशम विश्व प्रसिद्ध है और इसकी मांग विश्व के कोने-कोने से है।
  • दुनिया कि सबसे बड़ी नदी पर द्वीप असम में स्तिथ है और यह मजौलीके नाम से जाना जाता है। इसके अलावा दुनुया की सबसे छोटी नदी पर द्वीप ‘उमानंदा’ भी असम में स्तिथ है।
  • अहोम शाषक किसी राज्य पर सबसे ज़्यादा समय तक शाशन करने वाले शाशक में से एक थे। अहोम शाषक असम ने असम में लगभग 6000 वर्षों तक शाषण किया था।
  • असम स्तिथ ऐतिहाशिक हिजो यहां पर हिन्दू, बौद्ध और इस्लाम धर्म का एक प्रसिद्ध ऐतिहाशिक तीर्थ स्थल माना जाता है।
  • असम के गुवाहाटी में स्तिथ कामाख्या देवी मंदिर हिंदुओं के 51 शक्तिपीठों में काफी अहम माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि माता सती की योनि का जला हुआ हिस्सा यहीं गिरा था।
  • भारत का सबसे पहला तेल कुआं असम के डिगबोई में खोज गया था उर साल 1901 में खोजी गयी इस तेल कुएं के पास तभी रिफाइनरी प्लांट स्थापित की गई थी।
  • असम उत्तर पूर्वी राज्यों का एक अहम हिस्सा है और यहां पर स्तिथ सिलीगुड़ी कॉरिडोर के रास्ते ही बाकी सारे सेवन सिस्टर जुड़े हुए हैं।
  • काज़ीरंगा राष्ट्रीय उद्ध्यान पूरी दुनिया मे प्रसिद्ध है क्योंकि यहां सिंघवाले गैंडे दुनिया के 3/4 पाए जाते है और इनकी संख्या लगभग 2401 है।
  • असम में बिहू पर्व को स्थानीय वेशभूषा और पारंपरिक तरीकों से काफी धूम-धाम से मनाया जाता है और इस त्योहार को साल में तीन बार जनवरी, अप्रैल और अक्टूबर में मनाया जाता है।
  • आपने अबतक सुना होगा कि बगैर हेलमेट के गाड़ी चलाने पर ट्रैफिक पुलिस द्वारा जुर्माना किया जाता है क्योंकि हेलमेट 2 चक्का वाहन चलाने के दौरान हुए किसी दुर्घटना में आपके सिर को गंभीर चोट लगने से बचाती है। लेकिन असम के कोकराझार जिले में हेलमेट लगाने पर साल 2011 से पाबंधी लगी हुई है।

अंतिम शब्द

इस लेख के माध्यम से आपने जाना की असम में कूल कितने जिले हैं और उनका क्षेत्रफल कितना है। साथ ही आपको असम से जुड़ी अन्य जानकारी भी मिली। लेख से सम्बंधित किसी प्रकार की कोई त्रुटि हो तब क्षमा करें और हमें निचे कमेंट करके इसकी जानकारी अवश्य दें। इनसब के अलावा लेख से सम्बंधित किसी प्रकार का कोई सवाल या शंका आपके मन को विचलित करती हो तब आप कमेंट करके हमें अवस्य बतलायें, धन्यवाद।

इसे भी पढ़ें

ओड़िशा के कूल जिले, राजकीय पशु, पक्षी, फूल पेड़, और रोचक जानकारियां

झारखण्ड के कूल जिले, राजकीय पशु, पक्षी, फूल पेड़, प्रमंडल और रोचक जानकारियां

बिहार के कूल जिले, उप और वित्तीय राजधानी, डिवीज़न और क्षेत्रफल

FAQs

Q: असम में कुल कितने जिले हैं?

उत्तर: 34 जिले।

Q: असम में कुल कितने डिवीजन(प्रमंडल) हैं?

उत्तर: 5 प्रमंडल।

आपको जानकारी कैसी लगी?

औसत वोट 4.5 / 5. वोट दिया गया: 70

आपने अब तक वोट नहीं दिया, कृपया वोट दें

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

शेयर करने के लिए कोई एक चुने

Leave a Comment