आईआईटी क्या है और किस राज्य में है? इसके फायदे

4.4
(207)

Last Updated on December 27, 2021 by WikiHindi

आईआईटी (IIT) का नाम सुनते ही लोगों के मन में सबसे पहला ख्याल यही आता है की असम्भव है! कई बच्चे और उनके अभिभावक आईआईटी क्या है? ये तो जानते हैं लेकिन इसकी तैयारी कैसे की जाये इसके लिए योग्यता क्या है? अगर आईआईटी निकल भी जाये तो इसके क्या फायदे हैं? जैसे और भी कई सारे अनगिनत सवाल लोगों के मन में उठते हैं। इस लेख के माध्यम से आपको IIT से जुड़े लगभग सभी सवालों के जवाब मिलेंगे।

आईआईटी(IIT) क्या है?

अगर हम बात करें IIT की तब हिंदी में इसका अर्थ है: भारतीय प्रौधौगिकी संस्थान, जबकि अंग्रेजी में इसका अर्थ है Indian Institute of Technology. आईआईटी भारत सरकार द्वारा स्थापित किया गया शिक्षण संस्थानों का एक समूह है। जिसका उद्देश्य है तकनीक में उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा मुहैया कराना। ताकि देश को बेहतरीन वैज्ञानिक, इंजीनियर और प्रौद्योगिकीविद मिल सके।

तकनिकी आईआईटी का निर्माण राष्ट्रीय महत्व के संस्थान के रूप में एक मिशन की तरह विकसित किया गया था। ताकि देश में तकनिकी क्षेत्र को बढ़ावा मिले और आगे चलकर ये देश के औधौगिकी निर्माण में अपना बेहतरीन योगदान दे सकें।

आईआईटी का इतिहास और स्थापना

देश में सबसे पहले IIT कॉलेज की स्थापना पश्चिम बंगाल के खरगपुर जिले में 1951 में किया गया था। इसे आईआईटी खरगपुर के नाम से जाना जाता है। इसके बाद एक-एक कर आईआईटी कॉलेज की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा देश भर में कई अन्य अहम् स्थानों पर किये गए।

IIT Act 1961 के तहत, देशभर के IIT कॉलेज स्वायत्ता प्राप्त हैं। अर्थात ये किसी भी फैसले को लेने में स्वतंत्र हैं। साल 2011 में सरकार द्वारा आईआईटी एक्ट में कुछ बदलाव किये गए थे, जिससे कई सारे नए कॉलेज आईआईटी की सूचि में शामिल हो गए।

आईआईटी कॉलेज की लिस्ट अर्थात सूची

वर्तमान समय में देशभर के कई राज्यों में संचालित कूल 23 आईआईटी कॉलेज हैं, और ये कुछ इस प्रकार हैं।

S. No.कॉलेजस्थापनाराज्य
1.IIT Dhanbad1926झारखण्ड
2.IIT Kharagpur1951पश्चिम बंगाल
3.IIT Bombay1958महाराष्ट्र
4.IIT Madras1959तमिलनाडु
5.IIT Kanpur1959उत्तर-प्रदेश
6.IIT Delhi1963दिल्ली
7.IIT Guwahati1994असम
8.IIT Roorkee2001उत्तराखंड
9.IIT Hyderabad2008तेलंगाना
10.IIT Varanasi (IIT BHU)2008उत्तर-प्रदेश
11.IIT Ropar2008पंजाब
12.IIT Patna2008बिहार
13.IIT Gandhinagar2008गुजरात
14.IIT Bhubaneshwar2008ओड़िशा
15.IIT Jodhpur2008राजस्थान
16.IIT Mandi2009हिमाचल प्रदेश
17.IIT Indore2009मध्य प्रदेश
18.IIT Tirupati2015आंध्र प्रदेश
19.IIT Palakkad2015केरला
20.IIT Bhilai2016छत्तीसगढ़
21.IIT Goa2016गोवा
22.IIT Dharwad2016कर्नाटक
23.IIT Jammu2016जम्मू-कश्मीर

आईआईटी द्वारा ऑफर किये जाने वाली कोर्स

आईआईटी में स्नातक जिसे Undergraduate के नाम से जाना जाता है और इसके साथ ही स्नाकोत्तर जिसे Post Graduate के नाम से जाना जाता है। इन दो डिग्री के तहत विभिन्न कोर्स कराये जाते हैं। जो कुछ इस प्रकार है।

Undergraduate (स्नातक) कोर्सPost Graduate (स्नाकोत्तर) कोर्स
B.Tech (Bachelor of Technology)M.Tech (Master of Technology)
Dual Degree (B.Tech + M.Tech)M.Sc (Master of Science)
B.S (Bachelor of Science)Dual Degree (M.Sc + Ph.D.)
Dual Degree (B.S + M.S)Dual Degree (M.Tech + Ph.D.)
B.Arch (Bachelor of Architecture)Master of Design
B.Des (Bachelor of Design)M.B.A
Joint M.Sc-PhD

आईआईटी में एडमिशन कैसे लें?

आईआईटी (IIT) के विभिन्न प्रोग्राम्स में एडमिशन या कहें दाखिला लेने के लिए आपको इसके लिए निर्धारित किये गए प्रवेश परीक्षा को पास करना होगा। जो की कुछ इस प्रकार है।

प्रोग्राम्सप्रवेश परीक्षा
B.TechJee Mains + Advance
B.Tech + M.Tech (Dual Degree)Jee Mains + Advance
M.TechGATE
Joint M.Tech/MCP-PhDGATE
B.ArchAAT
B.S Jee Mains + Advance
B.S + M.SJee Mains + Advance
M.ScIIT JAM
Joint MSc-PhDIIT JAM
MBACAT

आईआईटी (IIT) में पढ़ने के फायदे

आईआईटी में पढ़ने का सपना लिए आज भी लाखों छात्र किसी न किसी कोचिंग संस्थान में दाखिला लेकर इस उम्मीद से तैयारी कर रहे हैं की उन्हें भी देश के सबसे प्रतिष्ठित संस्थान में पढ़ने का और उससे जुड़ने का मौक़ा मिलेगा। भविष्य में वो भी आईटीअन के नाम से जाने जाएंगे। आईआईटी में पढ़ने के निम्नलिखित फायदे हैं, जो आमतौर पर छात्रों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

मिलता जुलता लेख: वकील कैसे बने? इसके फायदे और नुकसान

1. बेहतर तन्खवा

अगर डिग्री के बाद, बात की जाये कॉलेज से मिलने वाली प्लेसमेंट या नौकरी की तब आपको जानकर हैरानी होगी की प्रत्येक वर्ष कुछ आईआईटी ग्रेजुएट को करोड़ों में तो कुछ को लाखों में तनख्वाह मिलती है। देश भर की आईआईटी में दी जाने वाली औसतन तनख्वाह की अगर बात की जाए तब वर्तमान समय में ये 11 लाख रूपए प्रति वर्ष है।

2. पढ़ाई का कम बोझ

कई सारे IIT ग्रेजुएट्स का ऐसा मानना है की आईआईटी कॉलेज में मेडिकल कॉलेज की तुलना में पढाई का भर काफी कम होता है। ये कहीं न कहीं एक वैसे छात्रों के लिए एक मौका होता है, जो अपने पाठ्यक्रम से हटकर कुछ अलग करना चाहते हो। यही कारण है की देश में ज़्यादातर स्टार्टअप की शुरुआत आईआईटियन ही करते हैं।

3. समाज में मान सम्मान

IIT से पढ़ने का सबसे बड़ा फायदा ये है की यहां से पढ़ाई करने पर समाज में तथा परिवार और रिश्तेदारों के बीच मान-सम्मान काफी ज़्यादा बढ़ जाता है। लोग इन्हे सम्मान जनक नजरिये से देखते हैं। क्योंकि लोगों का ऐसा मानना है की आईआईटी की प्रवेश परीक्षा को पास करना ही अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है।

4. सुविधाएँ और बुनियादी ढाँचे

जब बात बुनियादी ढांचे और सुविधाओं की आती है, तब इस मामले में आईआईटी बाकि किसी भी इंजीनियरिंग कॉलेज से काफी ज़्यादा आगे है। यहां पर लैब, इंटरनेट, हॉस्टल, क्लासरूम इत्यादि सभी चीज़ों में उच्चस्तरीय सुविधा मुहैया कराई जाती है। सुविधाएँ और बुनियादी ढांचे उच्चस्तरीय हो भी क्यों न, आखिरकार फंडिंग भारत सरकार द्वारा जो की जाती है।

5. अच्छे प्रोफेसर

आईआईटी से पढ़ाई करने का सबसे बड़ा फायदा ये भी है की यहां पर छात्रों को उच्च स्तरीय शिक्षित प्रोफेसरों से पढ़ने का मौका मिलता है। जो अपने क्षेत्र में काफी ज़्यादा ज्ञान प्राप्त किये हुए होते हैं। अगर देश के बाकि इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रोफेसरों की तुलना आईआईटी के प्रोफेसरों से की जाए तब इन्हे अपने विषय में काफी ज़्यादा महारथ हाशिल होती है। जो छात्रों में भी विषय के प्रति रूचि जगाने में काफी ज़्यादा मदद करती है।

6. अवसर ही अवसर

आईआईटी में पढ़ने का सबसे ज़्यादा फायदा तो ये है की यहां अवसर की कोई कमीं नहीं है। पढ़ाई के पहले साल से आखिरी साल तक छात्रों के पास कई सारे क्षेत्रों से जुड़ने का और उसपर काम करने का मौका मिलता रहता है। उनमे से कुछ इस प्रकार है:

  • विदेशों के बड़े-बड़े विश्विद्यालय से पढ़ने के रास्ते खुल जाते हैं। जिसमे ऑक्सफ़ोर्ड और हार्वर्ड जैसे विश्वविद्यालय शामिल है।
  • यहां से पढ़ाई पूरी करने के पश्चात अनुसंधान(Research) के क्षेत्र में भी करियर बनाया जा सकता है और एक वैज्ञानिक के रूप में योगदान दिया जा सकता है।
  • 11वीं और 12 वीं के छात्रों को कोचिंग पढ़ाने का विकल्प।
  • डिजिटल माध्यम जैसे Youtube या किसी अन्य प्लेटफार्म के जरिये आप अपने ज्ञान को साझा कर सकते हो।

अंतिम शब्द

इस लेख के माध्यम से आपने जाना की आईआईटी क्या है? साथ ही आपने आईआईटी में पढ़ने के फायदे को भी जाना और आपने ये भी जाना की इसमें एडमिशन अथवा दाखिला कैसे लिया जाता है। इस लेख से सम्बंधित किसी प्रकार की कोई सुझाव, शिकायत या सवाल आपके मन में हो तब निचे कमेंट करके हमें अवश्य बताएं, धन्यवाद्।

आपको जानकारी कैसी लगी?

औसत वोट 4.4 / 5. वोट दिया गया: 207

आपने अब तक वोट नहीं दिया, कृपया वोट दें

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Leave a Comment