Electric Scooter के फायदे और नुकसान

समय की मांग कहें या फिर कहें जरूरत, लोग अब धीरे-धीरे पेट्रोल और डीज़ल से चलने वाली गाड़ियों को छोड़ Electric Scooter, Scooty या Car लेने का मन बनाने लगे हैं। इसके पीछे दो सबसे महत्वपूर्ण कारण है पहला: ईंधन की बढ़ती कीमतें और दूसरा: पर्यावरण के प्रति लोगों की जागरूकता।

इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे की आखिर इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने के क्या फायदे हैं और साथ ही आप इससे जुड़े संभावित नुकसान के बारे में जानोगे।

इलेक्ट्रिक स्कूटर के फायदे

जब बात स्कूटर की आती है, तब ये अपने आप में शहरी क्षेत्र के लिए काफी सहूलियत भरा साधन माना जाता है। अगर ये स्कूटर ईंधन से चलने वाली न होकर Electric या कहें बैटरी वाली स्कूटी हो तो फिर क्या कहना! फिर तो इससे जुड़े फायदों की सूची काफी लम्बी हो जाएगी। उनमे से कुछ फायदे इस प्रकार हैं।

1. काफी सुविधाजनक

बात गैस सैलेन्डर लाने की हो या लाना हो घर का राशन इन सब मामले में स्कूटर काफी किफायती शाबित होता है। अगर यही स्कूटर पेट्रोल से चलने के बजाय बैटरी से चलने वाली हो। तब तो फिर क्या कहना, इस बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं की ईंधन के बजाय बैटरी से चलने वाले Scooter या इलेक्ट्रिक कार केवल युवाओं के लिए सुविधाजनक नहीं, बल्कि ये बुजुर्गों के लिए भी एक अच्छा साधन उभर कर सामने आ रहा है। क्यूंकि ये पेट्रोल से चलने वाले स्क्यूटरों की तुलना में काफी हलकी होती है।

2. चलाना और सीखना काफी आसान

Electric Scooter की सबसे बड़ी खासियत ये है की इसे चलाना काफी आसान है। अगर कोई साइकिल चलाना जनता हो, तब तो उसके लिए लिए EV Scooter चलाना और सीखना दो दिन का काम है। मुश्किल से पहले या दूसरी कोशिश में ही इसे भी सड़कों पर सरपट दौड़ाया जा सकता है। यही कारण है की ये युवाओं के साथ-साथ वैसे लोगों के बिच भी आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। जो अभी नयी-नयी गाड़ियां चलाना सीखना चाहते हैं।

3. जेब पर कम दबाव

जैसा की आप सभी जानते हैं, इलेक्ट्रिक स्कूटर में पारम्परिक ईंधन से चलने वाली गाड़ियों के इंजन का इस्तेमाल नहीं होता। इसलिए इसमें एक निश्चित समय पर शोरूम में जाकर सर्विसिंग करवाने की भी जरुरत नहीं पड़ती। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं की ये किस हद्द तक हमारे फ़िज़ूल खर्चों को बचाता है। ये तो थी सर्विसिंग और रख-रखाव से जुड़ी बातें।

अगर अब बात करें इसे चार्ज करने में लगने वाली बिजली के खर्चों के बारे में, तब ये किसी भी शहरी यातायात से जुड़े साधन की तुलना में काफी ज़्यादा सस्ती पड़ती है।

4. ठीक करना काफी आसान है

चूँकि Electric Scooty या Scooter के पीछे किसी तरह की राकेट साइंस नहीं होती। इसमें इस्तेमाल किये जाने वाले मोटर बिल्कुल किसी घर के पंखे की तकनीक पर ही काम करती है। इसलिए जब इलेक्ट्रिक स्कूटर में किसी प्रकार की कोई खराबी आती है। तब इसे सुधारना अथवा ठीक करना अन्य वाहनों के तुलना में काफी आसान हो जाता है।

5. ग्रीन हाउस को कम करने में मदद करता है

इंधनो से चलने वाले स्कूटर अथवा स्कूटी की तुलना में ये काफी ज़्यादा पर्यावरण हितैषी है। आसान भाषा में अगर बात करें तब इलेक्ट्रिक स्कूटर से किसी तरह का कोई हानिकारक गैस नहीं निकलता। जिससे हमारा पर्यावरण भी दूषित नहीं होता।

मिलता जुलता लेख: Electric Car के फायदे और नुकसान

6. हवा की गुणवत्ता

अगर आप एक पर्यवरण प्रेमी हो और आप स्वक्षता के प्रति एक जागरूक नागरिक की भूमिका अदा करना चाहते हो तब Electric Scooty, Scooter और Car आपके लिए है। क्योंकि इससे न केवल शोर शराबा कम होता है। बल्कि इससे आपके शहर में हवा की गुणवत्ता भी बरकरार रहती है। अगर आप भी चाहते हो की आने वाली पीढ़ी साफ़-सुथरी हवा में साँसे ले तब आप आज से ही Electric Vehicles का ही प्रयोग करना शुरू कर दें।

इलेक्ट्रिक स्कूटर (Electric Scooter) के नुकसान

अब तक आपने इससे जुड़े फायदों के बारे में पढ़ा लेकिन दुनिया में ऐसी कोई चीज़ नहीं जो सत प्रतिशत सही हो। अर्थात इलेक्ट्रिक कार अथवा स्कूटर के केवल फायदे ही नहीं बल्कि इससे जुड़े कई सारे नुकसान भी हैं। जिसकी जानकारी होनी सबके लिए जरूरी है।

1. दुर्घटना को आमंत्रण देता है

चूँकि भारत में 25 km/h या फिर 250 watt तक की श्रेणी में आने वाली लगभग सभी Electric Scooter में लाइसेंस की जरूरत नहीं पड़ती। इसलिए ये कहीं न कहीं दुर्घटना को आमंत्रित करता है। क्योंकि जब लोग इलेक्ट्रिक स्कूटर को बगैर सीखे ही सड़क पर लेकर उतरेंगे, तब ये सड़क पर चलने वाले बाकियों के लिए खतरे की घंटी हो सकती है।

2. ओवरचार्जिंग से बैटरी को नुकसान

ये तो सभीजानते हैं की बैटरी आपके स्मार्टफोन की या फिर आपके एलेट्रिक स्कूटर की अगर जरूरत से ज़्यादा इसे चार्ज किया जाए, तब इससे इसकी उम्र कम होने लगती है। कभी-कभी तो ओवरचार्जिंग के कारण बैटरी फटने का भी ख़तरा बना रहता है।

3. लम्बी दुरी का सफर आज भी मुश्किल

Electric Scooter का उपयोग आज भी शहरी क्षेत्रों तक ही शिमित है। क्योंकि जिस प्रकार पेट्रोल और डीजल पंप हर एक किलोमीटर की दुरी पर मौजूद है, उस तरह इलेक्ट्रिक वाहन को चार्ज करने की सुविधा शहर के बाहर मौजूद नहीं है। आज भी इसी कमी के कारण लोग इलेक्ट्रिक कार या स्कूटर खरीदने से हिचकिचाते हैं।

लेकिन हाल के दिनों में इलेक्ट्रिक स्कूटर की बढ़ती डिमांड के वजह से सरकार EV Charging Station बनाने पर भी जोड़ देने लगी है। अगर इसी तेज़ी से EV चार्जिंग स्टेशन का काम बढ़ता गया। तब आने वाले कुछ सालों में EV की चार्जिंग समस्या खत्म हो जाएगी।

4. स्टोरेज की समस्या

Electric Scooter की एक और समस्या ये भी है की, इसमें बाकी स्कूटरों की तुलना में सीट के निचे दिए जाने वाले स्पेस काफी कम होती है। इसके पीछे का एकमात्र कारण है भारी-भरकम बैटरी।

5. आग लगने का खतरा

देश में हाल ही के दिनों में Electric Scooty से जुडी कुछ घटनाएं सामने आयी है। जिसमे धुप में रखे या फिर चार्ज करने के दौरान इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लग जाती है। लगभग ऐसी सभी घटनाओं का वीडियो इंटरनेट पर उपलब्ध भी है। इसलिए ओवर चार्ज या फिर इस्तेमाल के तुरंत बाद चार्ज करने से बचें, ताकि आग लगने जैसे खतरे आपके Electric Scooter से दूर रहे।

इसे भी पढ़ें: स्टार्टअप कैसे करें?

6. अंडरपावर

आज भी Electric Vehicles (EV) की सबसे बड़ी समस्या है इसका अंडर पावर होना। अर्थात हाईवे पर किसी बड़ी वाहन को ओवरटेक करने के दौरान काफी ज़्यादा समस्या आती है। तो वहीँ दूसरी तरफ पहाड़ी रास्तों को एक साथ दो लोगों को लेकर चलना तो जैसे कहीं-न-कहीं किसी दुर्घटना को आमंत्रित करती है।

7. महँगी

इलेक्ट्रिक वाहन चाहे वो कार हो या हो स्कूटर, ये आज भी बाकी अन्य वाहनों की तुलना में काफी महँगी है। इसके पीछे का एकमात्र कारण इन गाड़ियों में इस्तेमाल की जाने वाली लिथियम आयन की महंगी बैटरी। जब इस गाड़ी में इस्तेमाल किया जाने वाला बैटरी ही महंगा हो, तब ये जाहिर सी बात है की गाड़ी भी महँगी होगी।

इसे भी पढ़ें: इलेक्ट्रिक स्कूटर, बाइक या कार की माइलेज या रेंज कैसे बढ़ाएं?

अंतिम शब्द

इस लेख के माध्यम से आपने जाना की इलेक्ट्रिक स्कूटर के क्या फायदे हैं और साथ ही आपने Electric Scooter इससे जुड़े संभावित नुकसान के बारे में भी जाना। इस लेख से सम्बंधित किसी प्रकार की कोई सुझाव, शिकायत या सवाल आपके मन को विचलित करते हो तब निचे कमेंट करके हमें अवश्य बतायें, धन्यवाद।

FAQ’s

Q: इलेक्ट्रिक स्कूटर में इंजन होता है क्या?

उत्तर: किसी भी इलेक्ट्रिक स्कूटर अथवा इलेक्ट्रिक वाहन में इंजन के बदले मोटर का प्रयोग किया जाता है।

Q: क्या भारत में इलेक्ट्रिक बाइक लेना अच्छा है?

उत्तर: भारत में वर्तमान परिस्तिथि जैसे प्रदुषण, ईंधन की बढ़ती कीमत और साथ ही सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक वहां पर दी जाने वाली सब्सिडी को देखते हुए। ये कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा की भारत में इलेक्ट्रिक बाइक लेना एक अच्छा विकल्प है।

3 thoughts on “Electric Scooter के फायदे और नुकसान”

Leave a Comment